Telegram Kya Hai? Kis Country Ka Hai?

 Telegram की यूजर टेस्टिंग 2012 में शुरू हो गया था, पूरा 1 साल इसके टेस्टिंग होने के बाद आखिर में 2013 में इसे ऑफीशियली लांच करा। तब लोग Telegram Kya Hai? जानना चाहते थे, और फिर धीरे-धीरे टेलीग्राम की एक्टिव यूजर्स बढ़ने लगा क्योंकि इसमें कुछ बेहतरीन  फीचर दिया गया है, जो दुनिया की बाकी किसी भी सोशल कम्युनिकेशन एप्स में नहीं मिलेगा।
Telegram Kya Hai? Kis Country Ka Hai?
जब 2009 में Whatsapp लांच हुआ था और फिर धीरे-धीरे लोगो का इंटरेस्ट फेसबुक में कम होने लगा, जिसे नजर में रखते हुए हैं फेसबुक ने 2014 में व्हाट्सएप को $19.3 Billion से खरीद लिया। लेकिन टेलीग्राम में ऐसे बोहत सरे features है जो व्हाट्सएप पर नहीं है।

लेकिन 2019 से लोग धीरे-धीरे व्हाट्सएप को छोड़कर टेलीग्राम पर शिफ्ट हो रहा है। पर यह नंबर 2020 में आकर कुछ चौंकाने वाला हो गया है क्योंकि 2020 में टेलीग्राम User 243% ज्यादा हो गया है, जो की टेलीग्राम के लिए बहुत बड़ी बात है।

Telegram Kya Hai?

Telegram नाम से ही पता चलता है कि यह एक सोशल कम्युनिकेशन एप्लीकेशन है। क्योंकि टेलीग्राम नाम का मतलब ही है इंटरनेट के माध्यम से संदेश देना। टेलीग्राम पर प्राइवेसी बहुत ज्यादा स्ट्रांग है क्योंकि इसमें आपको किसी भी यूजर का कोई डाटा नहीं मिलेगा शिवाय उसके यूजरनेम।

टेलीग्राम बहुत ही सिंपल तरीके से C++ language से बनाया है जो कि बिल्कुल यूजर फ्रेंडली है लेकिन इसमें कुछ बेहतर और जबरदस्त features दिया गया है, जो आपको बाकी किसी भी सोशल मीडिया एप्लीकेशन पर नहीं मिलेगा। अब टेलीग्राम पर 400 मिलियन monthly एक्टिव यूजर्स है।

ज़बरदस्त features के लिए लोग अब टेलीग्राम को इस्तेमाल करने लगा है और इसका मजा ले रहे हैं। जो कि हम आगे जाकर डिटेल्स में बात करने वाले हैं की कितने और क्या क्या बेहतर features मिलता है जो कहीं और नहीं मिलता

Telegram Ka Features Kya Hai?

दुनिया में जितने भी सोशल मैसेजिंग एप्लीकेशन है उनमें से टेलीग्राम थोड़ा हटके है जिसमें आपको बहुत सारे जबरदस्त features मिलने वाला है। सभी फीचर्स तो नहीं बता सकते लेकिन अभी हम आपको उनमें से जो सबसे बढ़िया है वह बताने जा रहे है।

1. टेलीग्राम पर आप चैनल बना सकते हो जहां पर millions of subscriber बना सकते हैं
2. टेलीग्राम पर कितना भी बड़ा फाइल शेयर कर सकते हैं
3. टेलीग्राम पर एफिलिएट मार्केटिंग कर सकते हैं
4.टेलीग्राम पर स्पेशल bots की features मिलता है।
5. टेलीग्राम पर ग्रुप बना सकते हैं। 


Telegram Bots Kya Hai?

टेलीग्राम एप उच्च श्रेणी के आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस द्वारा चलते हैं। लेकिन गूगल की तरह यह भी एक तरह की bots को यूज करता है। जिसे हर यूज़र चाहे तो अपने लिए अलग-अलग bots क्रिएट कर सकते हैं।

टेलीग्राम बोट्स के बहुत सारे अलग-अलग फीचर्स है, जो आपको कोई दूसरे सोशल मीडिया पर नहीं मिलता है।

Telegram Bots Kya Kam Karta Hai?

जैसे कि मैंने आपको बताया टेलीग्राम बोट की बहुत सारे फीचर्स है, जिनमें से सबसे फेमस फीचर है की इसकी जरिए आप एक पोस्ट क्रिएट करके उसे अलग-अलग टेलीग्राम चैनल पर सेंड कर सकते हैं।

टेलीग्राम bots के जरिए आप एक प्रो लेवल की आर्टिकल लिख सकते हैं। अगर अब टेलीग्राम चलाते हो तो अक्सर अब देखते होंगे कि अलग-अलग टेलीग्राम चैनल पर कितने खूबसूरत पोस्ट पब्लिश करते हैं।

जिसे देखकर हमें यह मन में जरूर आता है कि ऐसा पोस्ट कैसे क्रिएट करते हैं? जो सेटिंग हम नहीं देख पाते असल में वह लोग एक bots के जरिए उस तरह की पोस्ट को रेडी करते हैं।

Telegram Kisne Banaya Hai?

टेलीग्राम किसी एक व्यक्ति ने नहीं बनाया है इसे बनाने में काफी मेहनत लगा और साथ में टाइम भी लगा, टेलीग्राम की कांसेप्ट सबसे पहले Durov ब्रदर्स मैं आई थी लेकिन उसके बाद दोनों भाई ने मिलकर काम किया और साथ में एक फ्रेंड को भी पार्टनरशिप में ले लिया फाइनेंस करने के लिए और वह भी एक सॉफ्टवेयर डेवलपर था।

टेलीग्राम को जो 3 लोग मिलकर बनाया था उन लोगों का नाम है Nikolai Durov, Pavel Durov और Axel Neff. Nikolai Durov और Pavel Duro दो भाई है। अब Pavel Durov टेलीग्राम का CEO है।

Telegram Kis Country Ka Hai?

Telegram Kya Indian App Hai? नहीं, टेलीग्राम नाही Indian app है और ना ही American, Telegram एक Russian Instant Messaging Social Apps है। Telegram के अलावा Pavel Durov एक और सोशल कम्युनिकेशन site/app बनाया है जो कि राशिया की नंबर वन site/software है जिसका नाम है VK.

भारत के लोगों में यह बहुत ही बड़ी doubt थी जिसे लोग mouth to mouth प्रमोशन करते थे कि टेलीग्राम एक भारतीय app तो हमें इससे ही चलाना चाहिए ना की किसी और देश की अप्प्स को। मुझे उम्मीद है कि आपको Telegram Kya Hai? और Kis Country Ka Hai? लेख के बारे में सभी सवालों का जवाब मिल गया होगा।

No comments:

Powered by Blogger.